Friday, January 11, 2013


47  KAUTILYA’S   ‘ARTHASHAASTRA’

MadanMohan Tarun

video

Arguing with fools

 मूर्खेषु साहसं नियतम।मूर्खेषु विवादो न कर्तव्यः।
मूर्खेषु मूर्खवतकथयेत।

मूर्ख किसी भी प्रकार का साहस कर बैठता है।
मूर्ख से विवाद नहीं करना चाहिए। मूर्ख के सामने
मूर्ख जैसा ही आचरण करना चाहिए।

A fool can react in any extreme manner.
Never argue with a fool. Behave as a fool before a fool.

(From ‘Kautilya’s ‘ARTHASHAASTRA’ by MadanMohan Tarun)

No comments:

Post a Comment